हमारी अंतर्राष्ट्रीय उपस्थिति
  • UK
  • USA
  • UAE
  • sri-lanka
  • Singapore
  • Poland
 
  • Nepal
  • Bangladesh
  • Argentina
  • Denmark
  • France
  • Germany
घरबारे में इतिहास

इतिहास


इतिहास

इसकी शुरुआत 1989 में बुलंदशहर में हमारी सियाना फैक्ट्री से हुई जब हमारे दूरदर्शी अध्यक्ष राधे श्याम दीक्षित ने ऑपरेशन फ्लड के तीसरे चरण के दौरान इस कंपनी की स्थापना की थी,  जिसे भारत में श्वेत क्रांति के रूप में भी जाना जाता है। ऑपरेशन फ्लड की सफलता को, भारत को, दुनिया में सबसे बड़ा दूध उत्पादक देश बनाने के लिए भी जाना जाता है।

आनंदा की शुरुआत 15 जून 1989 को सियाना फैक्टरी से हुई और “आनंदा समूह” की जन्मतिथि और आनंद एग्रो खुदरा व्यापार का इसमें समावेश दिनांक 8 जुलाई 2003 को हुआ।

इसी समूह में आनंदा डेयरी फूड्स प्राइवेट लिमिटेड का समावेश दिनांक 27 जुलाई 2004 को हुआ और वित्त वर्ष 2007-2008 में हमने 100 करोड़ का कारोबार किया।

"डेयरी इंडिया" ब्रांड के जन्म लेने से वर्ष 2008 में हमने डेयरी इंडिया प्राइवेट लि. को अपने हाथ में ले लिया। 

हमने वर्ष 2009-10 में 200 करोड़ और 2011-12 में 300 करोड़ रूपये का कारोबार किया। हमने 1 जून 2012 को दिल्ली / एनसीआर में आनंदा एक्सप्रेस पनीर सेल्सफोर्स की शुरुआत की। "जी+" ब्रांड का जन्म विशेष रूप से 10 सितंबर 2012 को खुदरा व्यापार के लिए हुआ।

हमने सितंबर 2012 में खासकर चाय की श्रेणी में एक नया उत्पाद "टी 20" शुरू किया, और लखनऊ सिटी में 2014 में आनंदा एक्सप्रेस का शुभारंभ किया। वित्त वर्ष 2013-14 में हमने 700 करोड़ का कारोबार करने का लक्ष्य हासिल किया।

हम 2017 में 50 से अधिक उत्पादों के विनिर्माण और आपूर्ति करके और हमारे अच्छे मॉनिटर किए गए दूध प्रसंस्करण केंद्रों द्वारा प्रति दिन 16 लाख लीटर दूध को संभालने के लिए अपनी क्षमता में वृद्धि कर चुके हैं। 5000 गांव समाजों में 2.5 लाख से अधिक किसानों से 10 लाख से अधिक लीटर दूध एकत्र किए जाने पर हम अपने बढ़ते ग्राहकों के आधार की डेयरी आवश्यकताओं को पूरा करते हैं। हमारे पास 32 शीतलन केंद्र हैं जो सुनिश्चित करते हैं कि निकटतम प्रोसेसिंग सेंटर में जाने से पहले दूध को लंबे समय तक सुरक्षित रखा जाता है।

वर्षों से हमने 'सीधा फार्म' से ताजे, शुद्ध और पौष्टिक उत्पादों की स्थायी आपूर्ति प्राप्त करने के लिए कई पहल की है - जो आनंदा समूह के दिल के करीब एक भावना है।

आनंदा उत्पाद

टोंड दूध

आनंदा टोंड दूध, सही तरीके से रहने और अपने आहार से दूध न लेते हुए संतुलित जीवन का प्रबंधन करने का सही तरीका है।

टोंड मिल्क दही

आनंदा टोंड दही, कैलोरी के प्रति सचेत लोगों के लिए बाजार में उपलब्ध सर्वोत्तम टोंड वाली दही है।

Masala Chaach

मसाला छाछ

आनंदा मसाला छाछ गर्मी के दिनो के लिए विशेष रूप से उत्साहवर्धक है।

शीर्ष रेसिपी

Badam Doodh

बादाम दूध

बादाम का दूध एक पेय है जो पिसे हुए बादाम से बनाया जाता है

Apple and Almond Halwa

ऐप्पल और बादाम का हलवा

एक अलग प्रकार का हलवा - सेब और बादाम इसे एक अतिरिक्त विशेष स्वाद देते हैं।

Badam Pista Phirni

बादाम पिस्ता फ़िरनी

दूध आधारित मिठाई जो मेवा से समृद्ध है और ठंडा परोसा जाता है

सभी को देखें

नया क्या है

Kitchen Contest

चंडीगढ़ में आनंदा रसोई सुपरस्टार प्रतियोगिता का आयोजन

आनंदा पनीर ने चंडीगढ़ में रसोई सुपरस्टार प्रतियोगिता का आयोजन किया जहां कई उत्साही महिलायों ने भाग लिया और अपने रसोई कौशल को दिखाया। मंगलवार को आधु

COCO Shops

आनंदा डेयरी ने 1 दिन में दिल्ली एनसीआर में 100 स्टोर खोले

उत्तर भारत के सबसे बड़े डेयरी आपूर्तिकर्ताओं में से एक आनंदा डेयरी ने एनसीआर क्षेत्र में 100 कोको मॉडल की दुकानें खोली हैं। इन क्षेत्रों में 500 दु

Cabinet Minister

मंत्री सत्यदेव पचौरी ने किया आनंदा फॅक्टरी का निरीक्षण

बुधवार को प्रदेश सरकार में खादी एवं ग्रामोध्योग, रेशम उधयोग, वस्त्रोध्योग, सूक्षम, लघु एवं मध्यम उधम और जिला के प्रभारी मंत्री सत्यदेव पचौरी ने बुध

सभी को देखें
© कॉपीराइट आनंदा डेयरी लिमिटेड